Powered by Blogger.
no image

0

आज कल की दुनिया में शरीफ, सच्चे और प्यारे दोस्त मिलना बहुत ही मुश्किल है। . . . . . . मैं खुद हैरान हूँ कि तुम लोगों ने मुझे ढूंढ कैसे लिया...

no image

0

मिली दौलत, मिली शोहरत, मिला है मान उसको क्यों; मौका जानकर अपनी जो बात बदल जाता है; किसी का दर्द पाने की तमन्ना जब कभी उपजे; जीने का नजरिया ...

no image

0

छठ पूजा:--(एक कठिन तपस्या) पहले सभी मित्रों को छठ पर्व कि बहुत बहुत शुभकामनाएँ एवम् बधाई  !!जय छठ माता !!जय सूर्य देवता !! आईये देखें क्य...